International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


International Journal of Hindi Research
International Journal of Hindi Research
Vol. 3, Issue 1 (2017)

डाॅ0 धर्मवीर भारती के उपन्यासों में प्रेम कथा चित्रण


सोनिया राठी

डाॅ0 धर्मवीर भारती के समकालीन उपन्यासकारों में प्रमुख रूप से अज्ञेय जी, जैनेंद्र कुमार, भगवती चरण वर्मा, यशपाल, इलाचंद्र जोशी आदि प्रमुख हैं। इन सभी उपन्यासकारों का कथ्य व शिल्प भारती जी के कथ्य व शिल्प के अधिक निकट है। इन सभी के उपन्यासों में जीवन के यथार्थ का गहन व वास्तविक चित्रण है। ये प्रगतिवादी समाज के बदलते परिवेश को लेकर आगे बढ़े। उनकी रचनाओं में माक्र्सवाद व फ्रायडवाद का प्रभाव स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। डाॅ.धर्मवीर भारती के उपन्यासों में पुरानी सामाजिक मान्यताओं एवं प्रगतिवादी समाज की बदली हुई परिस्थितियों से उत्पन्न नवीन मान्यताओं के मध्य संघर्ष की भावभूमि प्रमुखता से विद्यमान है।
Pages : 41-43 | 2048 Views | 967 Downloads