International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


ISSN: 2455-2232

Vol. 5, Issue 5 (2019)

श्यौराज सिंह ‘बेचैन’ के जीवन की राहें

Author(s): डॉ. साधना सिंह
Abstract: श्यौराज सिंह ‘बेचैन’ हिंदी साहित्य के एक सशक्त हस्ताक्षर है, विशेष रूप से दलित लेखन के क्षेत्र में उनकी एक खास पहचान है I पिछले दो दशक से भी अधिक समय से दलित संघर्ष और अस्मिता के प्रश्नों को वह निर्भीकता, स्पष्टता और तथ्यपरकता के साथ साहित्य के माध्यम से उठाते रहे हैं I दलित प्रश्नों को पूरी गंभीरता और गहराई से समझने और विश्लेषित करने में कुशल एवं महारथ प्राप्त लेखक होने के साथ - साथ श्यौराज सिंह ‘बेचैन’ व्यवस्था के एक मौलिक एवं व्यवहारिक अध्येता व चिन्तक है I समाज की समस्याओं का अध्ययन वह सिर्फ किताबों के जरिए नहीं करते बल्कि समाज से संपर्क और संवाद करके उन्हें समझने का प्रयास करते हैं I यही कारण है कि उनका चिंतन अकादमिक न होकर व्यवहारिक है I साहित्य को सामाजिक आन्दोलन का एक शस्त्र मानने वाले तथा दलित साहित्य के प्रखर प्रवक्ता के रूप में विख्यात डॉ. ‘बेचैन’ आन्दोलन के साहित्यिक राजदूत हैं I
Pages: 39-40  |  153 Views  72 Downloads
publish book online
library subscription
Journals List Click Here Research Journals Research Journals
Please use another browser.