International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


International Journal of Hindi Research
International Journal of Hindi Research
Vol. 3, Issue 4 (2017)
S.No. Title and Authors Name
1
दलित चेतना की दृष्टि से शबरी का मूल्यांकन
डाॅ0 हरिश्चन्द्र अग्रहरि
How to cite this article:
डाॅ0 हरिश्चन्द्र अग्रहरि. दलित चेतना की दृष्टि से शबरी का मूल्यांकन. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 01-02.
2
वर्तमान परिवेश में नाथ साहित्य की प्रासंगिकता का अनुशीलन
डॉ0 सत्येंद्र प्रकाश
How to cite this article:
डॉ0 सत्येंद्र प्रकाश. वर्तमान परिवेश में नाथ साहित्य की प्रासंगिकता का अनुशीलन. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 03-06.
3
प्रेमचंद और रावूरि भरद्वाज की कहानियों के परिकल्पना में गरीबी
डॉ0 पी0 तिरुपतम्मा
How to cite this article:
डॉ0 पी0 तिरुपतम्मा. प्रेमचंद और रावूरि भरद्वाज की कहानियों के परिकल्पना में गरीबी. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 07-12.
4
केदारनाथ अग्रवाल के काव्य में सामाजिक यथार्थ का अनुशीलन
नीता अग्रवाल
How to cite this article:
नीता अग्रवाल. केदारनाथ अग्रवाल के काव्य में सामाजिक यथार्थ का अनुशीलन. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 13-15.
5
अंग्रेजी-हिंदी मशीनी अनुवाद तंत्रों की मूल्यांकन पद्धतियाँ
सुमेध खुशालराव हाडके, गिरीश नाथ झा
How to cite this article:
सुमेध खुशालराव हाडके, गिरीश नाथ झा. अंग्रेजी-हिंदी मशीनी अनुवाद तंत्रों की मूल्यांकन पद्धतियाँ. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 16-19.
6
मणिपुरी भाषा की सामान्य विशेषताएँ
डाॅ0 चान्दम इङो सिंह
How to cite this article:
डाॅ0 चान्दम इङो सिंह. मणिपुरी भाषा की सामान्य विशेषताएँ. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 20-24.
7
प्रेमचंद की कहानियाॅं और स्त्री संवेदना
डाॅ0 हरीश कुमार सोनी
How to cite this article:
डाॅ0 हरीश कुमार सोनी. प्रेमचंद की कहानियाॅं और स्त्री संवेदना. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 25-26.
8
नरेन्द्र कोहली के रामकथात्मक उपन्यास: एक विवेचनात्मक अध्ययन
रेखा रानी
How to cite this article:
रेखा रानी. नरेन्द्र कोहली के रामकथात्मक उपन्यास: एक विवेचनात्मक अध्ययन. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 27-31.
9
सिंहली तथा हिंदी की क्रियाओं का लिंग, वचन तथा पुरुष की दृष्टि से व्यतिरेकी विश्लेषण
laxhr jRuk;d
How to cite this article:
laxhr jRuk;d. सिंहली तथा हिंदी की क्रियाओं का लिंग, वचन तथा पुरुष की दृष्टि से व्यतिरेकी विश्लेषण. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 32-37.
10
संत रविदास: साम्प्रदायिक सौहार्द के हितैषी
प्रियंका सिंह
How to cite this article:
प्रियंका सिंह. संत रविदास: साम्प्रदायिक सौहार्द के हितैषी. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 38-39.
11
मुक्तिबोध के साहित्य में प्रतिबिंबित युग-संवेदना
डाॅ0 स्नेह लता सिंह
How to cite this article:
डाॅ0 स्नेह लता सिंह. मुक्तिबोध के साहित्य में प्रतिबिंबित युग-संवेदना. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 40-42.
12
दहेज प्रथा और स्त्री दासता
अर्चना सिन्हा
How to cite this article:
अर्चना सिन्हा. दहेज प्रथा और स्त्री दासता. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 43-45.
13
स्त्री संघर्ष की चुनौतियाँ और महदेवी वर्मा
डाॅ0 ललित कुमार सिंह
How to cite this article:
डाॅ0 ललित कुमार सिंह. स्त्री संघर्ष की चुनौतियाँ और महदेवी वर्मा. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 46-47.
14
अथर्ववेद में मानव के राजनीतिक अधिकार
प्रेम सिंह
How to cite this article:
प्रेम सिंह. अथर्ववेद में मानव के राजनीतिक अधिकार. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 48-50.
15
भूमण्डलीकरण से राष्ट्रीयकरण:
Sajitha J
How to cite this article:
Sajitha J. भूमण्डलीकरण से राष्ट्रीयकरण:. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 51-52.
16
प्रयोजनमूलक हिंदी की शैली : एक विश्लेषण
Dr. Jino P Varughese
How to cite this article:
Dr. Jino P Varughese. प्रयोजनमूलक हिंदी की शैली : एक विश्लेषण. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 53-54.
17
कामतानाथ की कहानियों में मानवाधिकार की चेंतना
अनुश्री त्रिपाठी, डाॅ0 प्रमिला बुधवार
How to cite this article:
अनुश्री त्रिपाठी, डाॅ0 प्रमिला बुधवार. कामतानाथ की कहानियों में मानवाधिकार की चेंतना. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 55-56.
18
प्रेमचंद एवं मार्टिन विक्रमसिंह की कहानियों में चित्रित दलित समाज का तुलनात्मक अध्यमयन
डाॅ0 आर0 के0 डी0 निलंति कुमारी राजपक्ष
How to cite this article:
डाॅ0 आर0 के0 डी0 निलंति कुमारी राजपक्ष. प्रेमचंद एवं मार्टिन विक्रमसिंह की कहानियों में चित्रित दलित समाज का तुलनात्मक अध्यमयन. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 57-61.
19
दिनकर के काव्य में राष्ट्रीयता
डाँ0 पी0 तिरुपतम्मा
How to cite this article:
डाँ0 पी0 तिरुपतम्मा. दिनकर के काव्य में राष्ट्रीयता. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 62-70.
20
‘‘नारी अस्मिता का विमर्श’’ प्रभा खेतान के उपन्यास “छिन्नमस्ता” के विशेष संदर्भ में
कंचन भाणावत
How to cite this article:
कंचन भाणावत. ‘‘नारी अस्मिता का विमर्श’’ प्रभा खेतान के उपन्यास “छिन्नमस्ता” के विशेष संदर्भ में. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 71-72.
21
शैलेश मटियानी के कथा साहित्य में दलित चेतना
डाॅ0 आनन्द सिंह फर्त्याल
How to cite this article:
डाॅ0 आनन्द सिंह फर्त्याल. शैलेश मटियानी के कथा साहित्य में दलित चेतना. International Journal of Hindi Research. 2017; 3(4): 73-74.