International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


International Journal of Hindi Research
International Journal of Hindi Research
Vol. 4, Issue 2 (2018)
S.No. Title and Authors Name
1
संत बेनामी जी के ब्रह्म-विषयक विचार
सतीश कुमार
How to cite this article:
सतीश कुमार. संत बेनामी जी के ब्रह्म-विषयक विचार. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 01-03.
2
विश्वभाषाओं से अनूदित हिन्दी नाटय साहित्य
डाॅ. दिपा दत्तात्रय कुचेकर
How to cite this article:
डाॅ. दिपा दत्तात्रय कुचेकर. विश्वभाषाओं से अनूदित हिन्दी नाटय साहित्य. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 04-07.
3
प्रेमचंद के समकालीन उपन्यासों में ‘‘गांधी दर्शन‘‘ एक अध्ययन
रीना चैहान, डाॅ. तबस्सुम अतहर
How to cite this article:
रीना चैहान, डाॅ. तबस्सुम अतहर. प्रेमचंद के समकालीन उपन्यासों में ‘‘गांधी दर्शन‘‘ एक अध्ययन. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 08-10.
4
स्वातंत्रयोत्तर कविता के मानव मूल्यों में सौन्दर्य बोध
Mamta Vinod Tripathi
How to cite this article:
Mamta Vinod Tripathi. स्वातंत्रयोत्तर कविता के मानव मूल्यों में सौन्दर्य बोध. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 11-13.
5
बेटियाँ जन्मी (सिर्फ माँ की कोख में)
डाॅ0 सारिका त्यागी
How to cite this article:
डाॅ0 सारिका त्यागी. बेटियाँ जन्मी (सिर्फ माँ की कोख में). International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 14-15.
6
हिन्दी नारों में प्रतिबिंबित सांप्रदायिक सद्भावना
विद्या पी वेणुगोपाल, डॉ. के. जयलक्ष्मी
How to cite this article:
विद्या पी वेणुगोपाल, डॉ. के. जयलक्ष्मी. हिन्दी नारों में प्रतिबिंबित सांप्रदायिक सद्भावना. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 16-17.
7
हिन्दी लघुकथा : आकारगत विमर्श
खेमकरण
How to cite this article:
खेमकरण. हिन्दी लघुकथा : आकारगत विमर्श. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 18-22.
8
चित्रा मुद्गल के उपन्यास ‘गिलिगडु’ में अभिव्यक्त वृद्ध जीवन
Dr. P Ganesan, Lakshmidevi K
How to cite this article:
Dr. P Ganesan, Lakshmidevi K. चित्रा मुद्गल के उपन्यास ‘गिलिगडु’ में अभिव्यक्त वृद्ध जीवन. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 23-24.
9
दलित साहित्य कि प्रासंगिकता एवं महत्त्व (एक आलोचनात्मक अध्ययन)
साक्षी सिंह
How to cite this article:
साक्षी सिंह. दलित साहित्य कि प्रासंगिकता एवं महत्त्व (एक आलोचनात्मक अध्ययन). International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 25-26.
10
भगत सिंह विभिन्न विषयों पर विचार व समझ
डाॅ. राकेश कुमार
How to cite this article:
डाॅ. राकेश कुमार. भगत सिंह विभिन्न विषयों पर विचार व समझ. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 27-30.
11
कुमाउनी साहित्य में स्त्री विमर्श
कृष्ण चन्द्र
How to cite this article:
कृष्ण चन्द्र. कुमाउनी साहित्य में स्त्री विमर्श. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 31-35.
12
राष्ट्रवाद के जनक : मोहम्मद अली जिन्ना
दुलारी कुमारी
How to cite this article:
दुलारी कुमारी. राष्ट्रवाद के जनक : मोहम्मद अली जिन्ना. International Journal of Hindi Research. 2018; 4(2): 36-37.