International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


International Journal of Hindi Research
Vol. 6, Issue 5 (2020)
S.No. Title and Authors Name
1
गोस्वामी तुलसीदास और रामराज्य की अवधारणा
कौशलेंद्र कुमार
2
भारत की लिपियाॅं एवं देवनागरी लिपि
बेबी श्रीमंत खिलारे
3
प्राचीन भारतीय ग्रन्थों में महिलाओं की स्थिति: कौटिल्य के अर्थशास्त्र के विशेष संदर्भ में एक अवलोकन
अभिषेक कुमार
4
सरदार बल्लभभाई पटेल का व्यक्तित्व, कृतित्व व एक भारत श्रेष्ठ भारत
अयोध्या प्रसाद सिंह
5
प्रभा खेतान के उपन्यासों में स्त्री का मनोवैज्ञानिक विश्लेषण
हिटलर सिंह
6
प्रामाणिक वैष्णव-भक्ति संप्रदाय
दीपक कुमार गुप्ता
7
अर्थ की अवधारणा-अपोहवाद: धर्मकीर्ति के विशेष सन्दर्भ में
श्रुति शर्मा
8
सुब्रह्मण्य भारती की कविताओं में विश्व बंधुत्व की भावना
पी. राजरत्नम
9
वर्तमान सन्दर्भ में मनु शर्मा के पौराणिक उपन्यासों का महत्व
धर्मेन्द्र कुमार सिन्हा
10
वर्तमान परिप्रेक्ष्य में प्रत्याहार की उपादेयताः एक अध्ययन
जसबीर, ज्योति शर्मा
11
हिन्दी साहित्यिः आलोचना रूप एवं समस्यायंे
Manju Devi
12
युग निर्माता आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदीः एक जीवन परिचय
अनुभा कुमारी
13
द्विवेदी युग में हिंदी नवजागरण
अनुभा कुमारी
14
आधुनिक जीवन में असाध्य रोगों पर योग का प्रभाव
जगदीप
15
प्रेमचन्द के उपन्यासों में स्त्री अस्मिता के प्रश्न
चन्दीर पासवान
16
वर्तमान समाज में प्रेमचंद की कहानियों की प्रासंगिकता
Savita Chandru Chawan
17
मंगलेश डबराल की कविताओं में संवेदना
Mangla
18
जॉन रॉल्स का न्याय का सिद्धांत और भारत का संविधान: तुलनात्मक अध्ययन
गजेन्द्र, निखिल कुमार, केशव चंद्र
19
वसिष्ठ संहिता मे यम और नियम का स्वरूप एक अध्ययन
ज्योति शर्मा, प्रो. गणेश शंकर गिरि
20
वैश्वीकृत विश्व में साम्राज्यवाद के विरुद्ध खड़ी नव वामपंथी कविता
षैजू के
21
फणीश्वर नाथ रेणुः एक लोकतात्विक पुरोधा
घनश्याम प्रसाद
22
शैक्षिक अवसरों में समानता एंव निकोबारी आदिवासी समाज
विनीता सिंह गोपालकृष्णन, कु0 राखी
23
डॉ. शील कौशिक की कहानियों में पारवारिक रिश्ते
दिलबाग सिंह
24
डाॅ. विष्णु विराट के स्फुट काव्य-भाव एवं शिल्पगत-अनुशीलन
नित्य नूतन पाराशर
25
मूक लोकतंत्र से कविताई संवाद
हरिकेश गौतम
26
हिंदी में बाल-नाटक की परंपरा
मनोज कुमार गुप्ता
27
एक लेखिका की संघर्ष गाथा: पिंजरे की मैना
मिथिलेश कुमारी
28
बदलते साहित्यिक परिदृश्य में मिथकीय उपन्यासों की प्रासंगिकता
साधना यादव
29
साहित्य में स्त्री-पुरूष संबंध (आधार ग्रंथ - ‘कामायनी‘)
भावना पाण्डेय
30
उपन्यास ‘पोस्ट बाक्स नं. 203 नाला सोपारा’ की संवेदनात्मक अनुभूति
साधना यादव
31
‘मगध-महिमा’ के इतिहास-बोध का महत्व
आराधना साव
32
वृंदावन लाल वर्मा के ऐतिहासिक उपन्यास मृगनयनी में भारतीय संस्कृति का चित्रण
चंदन चौहान
33
टीपू सुल्तान का मूल्यांकन
श्याम कुमार
34
काषी के अस्सी में आँचलिकता
संजय प्रसाद
35
शिवमूर्ति की कहानियों में ग्रामीण स्त्री की मुक्ति चेतना
प्रदीप कुमार साव
36
समकालीन हिंदी प्रवासी साहित्य
विजयश्री सातपालकर
37
स्त्री चिंतन का वैचारिक आधार: थेरीगाथा
कुमारी सीमा
38
प्रवासी साहित्यः परिभाषा व अवधारणा
मुलायम सिंह
39
गबन में राष्ट्रीय आंदोलन
अंशुमाला
40
कबीर की मध्यकालीन दृष्टि और स्त्री
राहुल सिद्धार्थ
41
सामाजिक-आर्थिक स्थिति के परिप्रेक्ष्य में मानवी बीमारियां: एक अध्ययन
सुभाष भिमराव दोंदे
42
हठयौगिक ग्रंथों में प्रत्याहार का स्वरूप
ज्योति शर्मा, प्रो. गणेश शंकर गिरि
43
आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का सांस्कृतिक अवदानः आलोचनागत सन्दर्भ में
राम गोपाल चतुर्वेदी
44
जयशंकर प्रसाद के काव्य में राष्ट्र जागरण के स्वर
कुमारी वाग्वी, प्रिंस कुमार
45
प्रेमचंद की कहानियों में बाल-चरित्र और तद्युगीन भारती समाज
शशि प्रभा
46
बेनीपुरी जी के संस्मरणों का कथ्यगत विश्लेषण
रीना यादव
47
हिंदी मिश्र वाक्य में विशेषण उपवाक्य
धनजी प्रसाद
48
मिथिलेश्वर के उपन्यास ‘यह अंत नहीं’ में स्त्री जीवन: शोषण और संघर्ष
सुनील कुमार वर्मा
49
प्रबोध कुमार गोविल का रचना संसार
मदालसा मणि त्रिपाठी
50
काशीनाथ सिंह के कथा साहित्य में सांस्कृतिक विमर्श
सुधा कुमारी
51
उत्तराखण्ड का आंचलिक इतिहास एवं संस्कृति
डाॅ. सुनीता कुमारी