International Journal of Hindi Research

International Journal of Hindi Research


International Journal of Hindi Research
International Journal of Hindi Research
Vol. 8, Issue 3 (2022)

आभासी शिक्षा के प्रति छात्र की धारणा-मात्स्यिकी महाविद्यालय, कवर्धा के संदर्भ मे


बी नाइटिंगेल देवी, संजय खाण्डेकर, ओ पी सोनवानी, नवीन कुमार ताम्रकार

वर्तमान परिदृश्य वैश्विक महामारी (कोविड-19) के दौर मे ई-लर्निंग आज की शिक्षा का एक अनिवार्य हिस्सा बन गया है। यह अध्ययन आभासी शिक्षा के प्रति छात्र की धारणा का अघ्ययन सत्र 2020-21 के लिए आयोजित किया गया था। अध्ययन के लिए छ.ग. मे चल रहे, राज्य के एक मात्र मात्स्यिकी महाविद्यालय, कवर्धा का चयन किया गया था। प्राथमिक आंकड़े को पूर्व परीक्षण प्रश्नावली का उपयोग करके साक्षात्कार विधि से एकत्र किया गया है तथा द्वितियक आंकडे़ पहले से मौजूद शोधपत्रों, रिपोर्टो और इंटरनेट आदि स्त्रोतो से एकत्र किया गया है। ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली का क्रियांवयन छात्रो के लिए महामारी के दौर में सबसे सुरक्षित तरीके से अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए बहुत उपयोगी रहा।
Download  |  Pages : 22-24
How to cite this article:
बी नाइटिंगेल देवी, संजय खाण्डेकर, ओ पी सोनवानी, नवीन कुमार ताम्रकार. आभासी शिक्षा के प्रति छात्र की धारणा-मात्स्यिकी महाविद्यालय, कवर्धा के संदर्भ मे. International Journal of Hindi Research, Volume 8, Issue 3, 2022, Pages 22-24
International Journal of Hindi Research International Journal of Hindi Research